शनिवार, दिसंबर 12, 2009

‘मटुक-जूली की डायरी’

दोस्तो , हमारी किताब ‘मटुक-जूली की डायरी’ वाणी प्रकाशन, नयी दिल्ली से दो खंडों में प्रकाशित हुई. पटने के पुस्तक मेले में 11 दिसम्बर को इसका लोकार्पण मशहूर शायर निदा फाजली ने किया. 

17 टिप्‍पणियां:

  1. bahut-bahut shubhkamnayeN. Ummid hai bahut kuchh naya jaan-ne ko milega.

    उत्तर देंहटाएं
  2. chaliye isi bahane aapki love story ka bajarikaran to ho gaya na.

    उत्तर देंहटाएं
  3. कभी मौका लगा तो पढ़ेंगे एक नई सोच को. जाने कब भारत आना हो...

    उत्तर देंहटाएं
  4. नीरवजी
    बिना पढ़े ही जान लिया कि लव स्टोरी है ! किताब लिखना बाजारीकरण है, ये आपसे ही मालूम हुआ ! तब तो यह ब्लाॅग भी बाजार में ही है और आपका ब्लाॅग भी

    उत्तर देंहटाएं
  5. अरविन्द मिश्राजी को बहुत आभार

    उत्तर देंहटाएं
  6. प्यारे मित्र ग्रोवर जी
    पूर्ण विश्वास था कि आपकी शुभकामनायें आएँगी. हार्दिक आभार

    उत्तर देंहटाएं
  7. आदरणीय समीरजी
    वाणी प्रकाशन की किताबें विदेशों में भी मिलती हैं. आपके देश में है या नहीं, हमें पता करना होगा. आभार

    उत्तर देंहटाएं
  8. किताब के माध्यम से आपके विचार जानने का मौका मिलेगा

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत ही सुन्दर .....ये किताब क्या जबलपुर में मिलती है ? मटुक कली जी .

    उत्तर देंहटाएं
  10. महेन्द्र मिश्रजी, आभार. जबलपुर में जो दुकानदार हिन्दी साहित्य की किताबें रखते होंगे, उनके पास यह किताब मिल जायेगी. कहने पर वे मँगा भी देंगे. वाणी प्रकाशन हिन्दी के बड़े प्रकाशकों में से एक है, इसलिए उससे छपी किताब आसानी से मिल जायेगी. धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  11. आप दोनो को बधाई और शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  12. ये टिप्पणी आपके पोस्ट से इतर है । मुझे रामेश्वर सिंह कश्यप लिखित लोहा सिंह किताब की तलाश है ,मैं मुम्बई में रहता हूं और पटना के कई प्रकाशकों ( नेट पर उपलब्ध ) को फोन कर चुका हूं , पर निराशा ही हाथ लगी । क्या आप मुझे सम्बंधित प्रकाशक/ दुकान का पता या फोन नंबर बता सकते हैं (मेरे ब्लाग पर टिप्पणी के द्वारा )

    उत्तर देंहटाएं
  13. to obtain books from vani prakashan:
    contact:
    vani prakashan
    21-A,dariyagang
    new delhi - 110002
    email: vani_prakasan@yahoo.com
    web page : http://www.vaniprakashan.com


    yours vijay - magadh university bodh gaya

    ph : 23273167,23275710

    उत्तर देंहटाएं
  14. दिसम्बर माह की वाणी-समाचार पत्रिका में इसकी रिपोर्ट और पुस्तक अंश आज पढ़े । जूली का भी और मटूक जी आप का भी । पुस्तक भी मिलने पर पढ़ूँगा । जूली लिव-इन रिलेशनशिप पर बात कर रही थी और आप गुरु शिष्य-परम्परा पर ।

    पुस्तक के लिए हार्दिक शुभ-कामनाएँ ।

    उत्तर देंहटाएं
  15. भूल सुधार : वाणी-समाचार पत्रिका दिसम्बर माह की नहीं, जनवरी माह की थी ।

    उत्तर देंहटाएं

ब्लॉग आर्काइव

Add-Hindi



Subscribe to updates